Thursday, November 4, 2010

दीपावली पर बाल-मन की कविता Children Poem on Diwali Festival

छोटे बच्चे प्रणव गौड़ द्वारा दीपावली के त्यौहार पर रचित यह बाल-कविता।
प्रणव (कुश) कुलाची हंसराज स्कूल, दिल्ली में तीसरी कक्षा में पढ़ते हैं और इन्हें शतरंज खेलने का शौक है। इनकी बाल-कवितायें बाल उद्यान पर प्रकाशित होती रही हैं।

दीपों का त्योहार दीवाली।
खुशियों का त्योहार दीवाली॥

वनवास पूरा कर आये श्रीराम।
अयोध्या के मन भाये श्रीराम।।

घर-घर सजे , सजे हैं आँगन।
जलते पटाखे, फ़ुलझड़ियाँ  बम।।

लक्ष्मी गणेश का पूजन करें लोग।
लड्डुओं का लगता है भोग॥

पहनें नये कपड़े, खिलाते है मिठाई ।
देखो देखो दीपावली आई॥

अन्य कवितायें:
इंद्रधनुष- कविता और पेंटिंग
प्रणव गौड़ 'कुश' की होली
गणतंत्र दिवस पर चली छोटी कूची
किस्मस ट्री की पेंटिंग
चाचा नेहरू कक्षा 1 के एक छात्र की दृष्टि में
दिवाली पर एक बच्चे द्वारा बना चित्र

7 comments:

सुरेन्द्र बहादुर सिंह " झंझट गोंडवी " said...

ppyari si kavita
happy deewali

Sukhmangal Singh said...

"दीवाली आई है "
सुनो गांव पुर देश .दीवाली आई है |
राम अवधपुर अवधेश,अवध बधाई है ||
सरयू क लहरें धीर, धरनि चमकाई है |
करुणा सिंधु ! बुद्धि की जी बीरताई है||
चारहु दिसि श्रृंगार ,सखी गुण गए हैं |
क्रीड़ा- कल्लोल शारद वीणा बजाई हैं ||

Sonal Chouhan said...

It is time to celebrate diwali festival with CraftEra Diwali Sale Up to 50% off in all products. These all products are handmade and available in CraftEra with high quality.

Vinayak Rao said...

Amazing!!! I like this website so much it's really awesome.I have also gone through your other posts too and they are also very much appreciate able and I'm just waiting for your next update to come as I like all your posts... well I have also made an article hope you go through it. Diwali 2017 , Diwali images , Diwali wishes

vibha rani Shrivastava said...

आपकी लिखी रचना "पांच लिंकों का आनन्द में" शनिवार 04 नवम्बर 2017 को लिंक की जाएगी ....
http://halchalwith5links.blogspot.in
पर आप भी आइएगा ... धन्यवाद!

Dhruv Singh said...

क़ाबिले तारीफ़ है

Nitu Thakur said...

bahot badhiya...very nice